Artificial Intelligence के Advantage और Disadvantage | AI कैसे काम करता है - in Hindi


Artificial Intelligence क्या है - नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट में आपका स्वागत है आज हम इस पोस्ट के जारी बताने वाले है की Artificial Intelligence क्या है इसका उपयोग कहां हो रहा है इसके क्या फायदे हैं और इसके क्या नुकसान है इससे जुड़ी सारी जानकारी आपको मिलेगी इसलिए इस पोस्ट को पूरा जरू पढ़िए।

 

 

 
Artificial Intelligence के Advantage और Disadvantage | AI कैसे काम करता है - in Hindi

 

 

Artificial Intelligence आज का हमारा विषय है।

Artificial Intelligence बारे में आपने जरूर सुना होगा और आजकल तो हम सभी स्मार्टफोंस में Google Map और Google assistant जैसे सॉफ्टवेयर गके रूप में इसका इस्तेमाल भी कर रहे हैं इस पूरे ब्रह्मांड में मनुष्य ही एक ऐसा जीव है जिसे ईश्वर ने दिमाग देने के साथ उसको सही तरीके से उपयोग करने की क्षमता भी प्रदान की है मनुष्य अपनी बुद्धि और कुशलता से आज कहां से कहां पहुंच गया है अपने इस बुद्धि के बल पर इंसानो ने Computer, Internet, Smartphones जैसे और भी कई सारे आविष्कार किए हैं जिसकी वजह से हम मनुष्य की जिंदगी को एक नई दिशा मिली है

 

 Technology के क्षेत्र में इंसानो ने इतना विकास कर लिया है कि अब उसी की तरह सोचने समझने और अपने दिमाग का इस्तेमाल करने वाला एक चलता फिरता मशीन तैयार करने के बारे में सोच रहा है जो बिल्कुल इंसान की तरह ही काम करने की क्षमता रख सकता है उस एडवांस टेक्नोलॉजी से बनने वाली मशीन को ही artificial Intelligence कहा जाता है

 

 इसके बारे में लोगों को ज्यादा कुछ नहीं पता इसलिए आज हम आपके लिए इस पोस्ट में Ai यानिकि Artificial Intelligence से जुड़ी खास जानकारी लेकर आए हैं जिसमें आपको Ai क्या है इसका इस्तेमाल कहां किया जाएगा और इसके क्या फायदे और नुकसान है इन सभी के बारे में बताएंगे।

 

 

Artificial Intelligence होता क्या है ?

Artificial Intelligence जिसे हिंदी में कृत्रिम बुद्धिमता कहा जाता है यंहा क्रत्रिम का मतलब है कि - किसी व्यक्ति के द्वारा बनाया हुआ और बुद्धिमता का मतलब है - Intelligence यानी सोचने की शक्ति।

 

Artificial Intelligence कंप्यूटर विज्ञान की एक शाखा है जो ऐसे मशीन को विकसित कर रही है जो इंसान की तरह सोच सके और कार्य कर सके जब हम किसी कंप्यूटर को इस तरह तैयार करते हैं कि वह मनुष्य की अक्लमंदी की तरह कार्य कर सके तो उसे Artificial Intelligence कहते हैं 

(अर्थात - जब हम किसी मशीन में इस तरह के प्रोग्राम सेट करते हैं कि वह एक मनुष्य की भांति कार्य कर सकें उसे Artificial Intelligence कहा जाता है) 

 

यह जो Intelligence की ताकत होती है यह हम मनुष्य के अंदर अपने आप ही बढ़ती है कुछ देखकर, कुछ सुनकर, कुछ छुकर कि हम यह सोच सकते हैं कि उस चीज के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए ठीक उसी तरह से कंप्यूटर यंत्र के अंदर भी एक तरह का Intelligence Develop कराया जाता है। 

 

जिसके जरिए Computer system या Robotic System तैयार किया जाता है जो उन्ही तर्को  के आधार पर चलता है जिसके आधार पर मानव मस्तिष्क काम करता है Computer Science के कुछ वैज्ञानिको ने Ai के परिकल्पना दुनिया के सामने रखें थे जिसमें उन्होंने बताया था कि AI कॉन्सेप्ट के द्वारा एक ऐसा कंप्यूटर कंट्रोल्ड मशीन या एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाने की योजना बनाई जा रही है जो वैसा ही सोच सके जैसे इंसान का दिमाग सोचता है मानव सोचने एनालाइज करने और याद रखने का काम भी अपने दिमाग की जगह पर यंत्र कंप्यूटर से कराना चाहता है इसीलिए Artificial Intelligence की प्रगति पर जोर दिया जा रहा है। 

 

Computer science में Ai  को मशीन लर्निंग के नाम से भी जाना चाहता है मशीन लर्निंग Ai  का एक हिस्सा है यह सिस्टम को अपने अनुभव से अपने आप ही सीखने और खुद को improve करने की क्षमता देता है और उसमें प्राथमिक महत्व कंप्यूटर को खुद से इंसान के बिना ही सीखने के लिए अनुमति देना होता है मशीन लर्निंग कंप्यूटर प्रोग्राम की Develop पर फोकस करता है जो डेटा को Access कर सके और उसमें अपने आप सीख सके जिस तरह मनुस्य अपने अनुभव से अपनी क्षमता को बेहतर करते हैं ठीक उसी तरह Ai के प्रोग्राम भी है जिसके जरिए मशीन भी सीखने का काम कर सकती है आज के समय में Ai और machine learning के लिए सबसे ज्यादा Python programming language का उपयोग किया जा रहा है।

 

 

Artificial Intelligence की शुरुआत किसने किया था ?

जब इंसान कंप्यूटर सिस्टम की असली ताकत की खोज कर रहा था तब मनुष्य के दिमाग में उन्हें यह सोचने पर मजबूर किया कि क्या एक मशीन भी इंसानों की तरह सोच सकती है इसी सवाल से Artificial Intelligence के विकास की शुरुआत हुई जिसके पीछे केवल एक ही उद्देश्य था कि एक ऐसा बुद्धिमान मशीन की संरचना की जाए जोकि इंसानों की तरह ही बुद्धिमान हो और उनकी तरह ही सोचने समझने और सीखने की क्षमता रखता हो

 

सन 1955 में सबसे पहले John McCarthy ने Artificial Intelligence शब्द का इस्तेमाल किया था वो एक American computer scientist थे जिन्होंने सबसे पहले इस टेक्नोलॉजी के बारे में 1956 में एक कॉन्फ्रेंस में बताया था इसीलिए उन्हें Father of artificial intelligence भी कहा जाता है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोई नया विषय नहीं है दशकों से दुनिया भर में इस पर चर्चा होती रही है Matrix, Robots, Terminator, Blade Runner जैसी फिल्मों का आधार Artificial Intelligence का ही है जहां रोबोट का स्वरूप दिखाया गया की कैसे कोई इंसान की तरह सोचता है और कार्य करता है

 

 

Artificial Intelligence का उपयोग कहां किया जाता है ?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की लोकप्रियता बढ़े ही जोरो शोरो से बढ़ती चली जा रही है और आज ये एक ऐसा विषय बन गया है जिसके कारण Technology और Business के क्षेत्रों में काफी चर्चा हो रही है कई विशेषज्ञों और इंडस्ट्री एनालिसिस का मानना है कि Artificial Intelligence  या  मशीन लर्निंग हमारा भविष्य है लेकिन अगर हम अपने चारों तरफ देखें तो हम पाएंगे कि यह हमारा भविष्य नहीं बल्कि वर्तमान है।

 

Technology के विकास के साथ आज हम किसी ना किसी तरीके से Artificial Intelligence जुड़े हुए हैं और इसका इस्तेमाल भी कर रहे हैं हाल ही में कई कंपनियों ने मशीन लर्निंग पर काफी निवेश किया है इसके कारण कई Artificial Intelligence Product और Aps हमारे उपलब्ध हुए है। 

 

 

आज के समय में उपलब्ध होने वाले कुछ Artificial Intelligence के उदाहरण

 

  1. आपने Apple phone तो देखा ही होगा इसकी सबसे लोकप्रिय Personal Assistant Siri के बारे में भी जरूर सुना होगा Siri Artificial Intelligence का सबसे बेहतरीन उदाहरण है इससे आप वो सारी चीजें करवा सकते हैं जो आप पहले इंटरनेट में टाइप करके किया करते थे जैसे :- मैसेज सेंड करना, इंटरनेट से इनफॉरमेशन ढूंढना, कोई एप्लीकेशन ओपन करना, टाइमर सेट करना और अलार्म लगाना इत्यादि जैसे सभी काम आप मोबाइल को बिना हाथ लगाए Siri  से Hey Siri कहकर करवा सकते हैं। 


  Siri आपकी भाषा और सवालों को समझने के लिए Machine learning Technology का प्रयोग करती है हलाकि ये सिर्फ iPhone और ipad में ही उपलब्ध है इसी तरह Alexa device, Windows का Cortana और एंड्रॉयड फोन की पर्सनल Google Assistant है जोकि Siri की तरह काम करने के लिए उपयोग किये जाते हैं। 

 


  2. Google अपनी कई क्षेत्रों में Artificial Intelligence का इस्तेमाल करता है लेकिन गूगल मैप में AI technology का अच्छा इस्तेमाल हुआ है। 


  Google Map हमारी Location को ट्रेक करती है और हमें सही रास्ता बताने के लिए Ai enabled Mapping का भी इस्तेमाल करती है और हमें सही रुट बताने में मदद करती है। 

 

 

  3. लोकप्रिय E-Commerce वेबसाइट amazon ने भी एक ऐसा प्रोडक्ट लॉन्च किया है जिसका नाम है Echo ये आपके सवालों के जवाब दे सकता है आपके लिए ऑडियो बुक पढ़ सकता है आपका ट्रेफिक का हल और वेदर रिपोर्ट बता सकता है किसी भी Sports के स्कोर और सिड्यूल भी बता सकता है।

 

  4. Artificial Intelligence का इस्तेमाल सिर्फ स्मार्टफोन में नहीं है बल्कि Automobiles के क्षेत्र में भी इसका बहुत ज्यादा उपयोग किया जा रहा है अगर आप कार पसंद करते हैं तो आपको Tesla कार की जानकारी जरूर होगी यह कार अब तक उपलब्ध सबसे बेहतरीन Automobiles में से एक है Tesla कार से जुड़ने के बाद इसमें Self-driving जैसे फ्यूचर भी उपलब्ध है ऐसे ही ना जाने कितनी Self-driving कार और बन रही है जो आने वाले वक्त में भी और स्मार्ट हो जाएंगी। 

 

  5. Artificial Intelligence का इस्तेमाल मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री में भी खूब जोरों से हो रहा है पहले जिस काम को करने के लिए सैकड़ों लोग लगते थे वही आज मशीन की मदद से वही काम बहुत जल्दी और बेहतर किया जा रहा है। 

 

  6. हमें वीडियो गेम्स में भी Artificial Intelligence की झलक मिलती है जैसे कई सारी गेम्स में आपको कंप्यूटर से खेलना होता है जैसे chess और Ludo इन सबके अलावा AI का इस्तेमाल Speech recognition, Computer Vision, Robotics, Finance, Weather Forecasting, Health Industry और evolution में होता है। 

 


 

Artificial Intelligence के क्या Advantage है ?

  1. Artificial Intelligence Error को कम करने में हमारी मदद करता है और अधिक Accuracy के साथ स्टिक हासिल करने की संभावना बढ़ जाती है। 

 

  2. Artificial Intelligence का उपयोग करने से तेजी से निर्णय लेने और जल्दी से कार्य करने में सहायता मिलती है। 

 

  3. मनुष्य के विपरीत मशीन को लगातार आराम और रेफ्रेस्मेंट की आवश्यकता नहीं होती वो लम्बे समय तक काम करने के काबिल होते हैं और नतो उक्ते है ना विचलित होते हैं और ना ही थकते है। 

 

  4. Artificial Intelligence की मदद से संचार, रक्षा, स्वास्थ्य, आपदा प्रबंधन और कृषि आदि क्षेत्रों में बड़ा बदलाव आ सकता है। 

 

 

 

Artificial Intelligence के क्या Disadvantage है ?

  1. Artificial Intelligence के लाभ अभी बहुत स्पष्ट नहीं है लेकिन इसके खतरों को लेकर कहा जा सकता है कि Ai के आने से सबसे बड़ा नुकसान मनुष्य का ही होगा।

 

  2. Ai मनुष्य के स्थान पर काम करेंगे और मशीनें सव्य ही निर्णय लेने लगेंगे और उन पर नियंत्रण नहीं किया गया तो इससे मनुष्य के लिए खतरा भी उत्पन्न हो सकता है। 

 

  3. विशेषज्ञों का कहना है कि सोचने समझने वाले रोबोट अगर किसी कारण या परिस्थिति में मनुष्य को अपना दुश्मन मानने लगे तो मानवता के लिए खतरा पैदा हो सकता है। 

 

  4. Artificial Intelligence के निर्माण के लिए भरी लागत की आवश्यकता होती है क्योंकि ये बहुत ही काम्प्लेक्स मशीन होती है उनके मरोमात और रख रखाव के लिए भरी लागत की आवश्यकता होगी। 

 

  5. इसमें कोई शक नहीं है की Artificial Intelligence कई सारी नौकरियों को मनुष्यों से छीन रही है जिसमें भविष्य में बेरोजगारी की समस्या और भी बढ़ने वाली हैं।

 

 

Google के CEO Sundar Pichai का कहना है कि मानवता के फायदे के लिए हमने आग और बिजली का इस्तेमाल तो करना सीख लिया है पर इसके बुरे पहलुओं से उभरना भी जरूरी है इसी प्रकार Artificial Intelligence भी ऐसी तकनीक है और इसके इस्तेमाल भी हम बहुत से क्षेत्रों में अपने फायदे के लिए कर रहे हैं लेकिन सच यह भी है की अगर इसके जोखिम से बचने का तरीका नहीं ढूंढा तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं क्योंकि तमाम लाभों के बावजूद Artificial Intelligence के अपने खतरे है।

 


Artificial Intelligence आने से हमें जो सुविधा मिल रही है आने वाले समय में इसका मनुष्य पर केसा असर होने वाला है इसके बारे में आप क्या सोचते है अपनी राय आप हमें कमेंट में जरूर बताएं आशा है कि आपको इस पोस्ट से Artificial Intelligence क्या है, इसका उपयोग कहां हो रहा है, इसके क्या फायदे हैं और इसके क्या नुकसान है इससे जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी मेरी हमेसा से यही कोसिस रहती है की हमरी पोस्ट के जरिये आपको दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त हो सके ताकि आपको कही और जाना न पड़े।

 


धन्यवाद


Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post