E.A.T. क्या है - in Hindi | Google E.A.T. Score - Full Information

 

E.A.T. कैसे काम करता है - अगर आप SEO के बारे में पढ़ते हैं तो आपने हाल के महीनों में E.A.T. के बारे में बार-बार पड़ा होगा सुना होगा कुछ लोग कहते हैं कि E.A.T. एक  रैंकिंग फैक्टर है कुछ लोग कहते हैं कि नहीं है और गूगल हमेशा की तरह गोलमोल जवाब देता है तो आज के इस पोस्ट में E.A.T. के बारे में बात करेंगे यह क्या होता है

 

यह किस तरह की Website के लिए जरूरी है यह ranking factor है या नहीं है और इसके लिए क्या करना चाहिए आपको और जब में Website कह रहा हूँ तो ये Business Website के लिए भी है और Blogs के लिए भी है तो दोनों तरह की वेबसाइट के लिए important है।

 

 

 

E.A.T. क्या है - in Hindi | Google E.A.T. Score - Full Information

 

 

हेलो दोस्तों मै हूँ सोनू कुमार और आज हम बात कर रहे हैं Google के E.A.T. के बारे में और इसका मतलब क्या होता है EXPERTISE AUTHORITATIVENESS TRUSTWORTHINESS गूगल हर वेबसाइट को एक E.A.T. Score देता है जो हर वेबसाइट को 3 फैक्टर पर टेस्ट करके दिया जाता है
 
  1. Expertise - वेबसाइट या वेबसाइट पर कंटेंट लिखने वाला अपनी फील्ड में कितना एक्सपर्ट है
  2. Authoritativeness - यानि की उस कंटेंट लिखने वाले या वेबसाइट की अपनी फील्ड में कितनी पकड़ है क्या लोग उसकी बात मानते हैं
  2. Trustworthiness - यानी की वेबसाइट कितनी भरोसेमंद है
 
मुझे पता है की ये तीनों कांसेप्ट आपस में काफी मिलती-जुलती चीजें लगती हैं इसलिए में एक आसान एग्जांपल देता हूं मान लीजिये की एक कवि सम्मेलन चल रहा है कवी सम्मेलन में बड़े फेमस कवि आए हुए हैं कुमार विश्वास मान लेते हैं उन्हें देखने के लिए हजारों लोगों की भीड़ आ गई है तो इस सिन में कवी Expert है वह अपने काम में एक्सपर्ट है तभी लोग वहां पर उसे देखने के लिए आए हुए हैं कभी और कभी शुरू की वाह-वाह है जो भी कह रहा है उस पर लोग रिस्पांस कर रहे हैं
 
कवि को इंगेजमेंट मिल रहा है बचा क्या ट्रस्टवर्थी जो कभी कोई यूज़ करता है मंच पर जो तारीफ करके बुलाता है जो इरशाद इरशाद बोलता है वह ऑडियंस के बीच में हवा बनाने का हवा बनाने का काम करता है और बताता है कि शायद अच्छे हैं और यह है शायर होना एक एक्सपर्टीज है एक्सपर्ट हो गया हूं ऑडियंस का इंगेजमेंट अथॉरिटेटिव नेस है और क्वालिटी का ट्रीटमेंट नेशन ट्रस्ट व दिनेश इस तरह जालिम ने रसगुल्ले के टुकड़े-टुकड़े कर दिया पूरा नहीं करेंगे तो गालिब रात में आकर चप्पल
 
 


E.A.T. Score कहाँ से आया है ?

Google में  एक Technology जॉइंट है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग में काफी ज्यादा इन्वेस्ट कर रहा है लेकिन इंसान का दिमाग अभी भी सबसे ज्यादा high quality Result देता है गूगल 10 से हजार Rater को हायर करता है पूरी दुनिया में इन क्वालिटी Rater को  गूगल सर्च टीम Keyword की लिस्ट देती है जिन्हे क्वालिटी Rater गूगल पर जाकर सर्च करते हैं और देखते हैं कि जो Search Result आ रहे हैं क्या वह हाई क्वालिटी है और वह इसके बारे में Google Search Team को अपना Feedback देते हैं ये क्वालटी Rater जिस डॉक्यूमेंट को गाइड की तरह फॉलो करते है उसे कहते हैं Quality Rater Guidelines.
 
E.A.T. का ज़िकर सबसे पहले इस क्वालिटी Rater गाइडलाइंस में आया था तो पक्का है कि E.A.T. Search Ranking में काफी इंपॉर्टेंट है और गूगल लगातार इस score के बेस पर वेबसाइट को टेस्ट करता रहता है
 
But क्या E.A.T Really में Ranking Factor है ये बात क्लियर है कि Quality Rater Guidelines एक्जेक्टली गूगल की रैंकिंग फैक्टर नहीं होते हैं बल्कि एक तरह से Futcher गोल होते हैं हम लोग और नई गाड़ी लेनी है वैसे ही गूगल अपने लिए फ्यूचर गोल्स को क्वालिटी लेटेस्ट गाइडलाइंस में सेट करता है वह क्वालिटी रिसर्च को वेरीफाई कर आता है और उसके बाद अपनी एल्बम को ऑप्टिमाइज करते हैं ताकि वह ऑटोमेटिक क्वालिटी रेडियस ना सिर्फ सर्च की क्वालिटी को वेरीफाई करने का काम करते हैं बल्कि एल्बम्स के लिए रोल मॉडल का काम भी करते हैं अभी जितना वेबसाइट के लिए इंपॉर्टेंट है उससे भी ज्यादा फ्यूचर में हो जाएगा इसके ऊपर आपको करने की जरूरत नहीं कर रहे हैं
 
 


क्या E.A.T. हर Website के ऊपर apply होता है ?

इसका आंसर है थोड़ा सा गोल मोल है YMYL पेज यानी कि ऐसे वेब पेज और वेबसाइट जो your money your life फिल्ड से रिलेटेड है उन पर E.A.T. score का असर बहुत ज्यादा होता है गूगल की क्वालिटी लेटेस्ट गाइडलाइन कहती हैं कि YMYL को कम है उन्हें कम रैंकिंग दी जानी चाहिए वाईएमवाईएल कैटेगरी में मेडिकल फाइनेंस इंश्योरेंस जाती है वाईएमवाईएल कैटेगरी में आ जाती हैं

इसके अलावा नोबेल वेबसाइट इसको से अफेक्ट होती हैं 2019 में गूगल ने एक टाइट पब्लिश की थी ऐसे वेबमास्टर्स के लिए जिन की वेबसाइट गूगल को अपडेट से अफेक्ट हुई है और उसमें गूगल ने कमेंट किया था कि अगर आपकी वेबसाइट को अपडेट के बाद खराब परफॉर्म कर रही है तो आपको इसको पर ध्यान देना चाहिए यह बताने के लिए कैसे जाएं पहला काम करना है वह अपनी वेबसाइट में ऑथर प्रोफाइल को क्रिएट करना है 
 
 


E.A.T. Score को बढ़ाया कैसे जाये ?

हीस्ट्री ज्योग्राफी पता करने से काम नहीं चलेगा तो सबसे पहला काम जो'होने करना है वो अपने वेबसाइट में author profile create करना है चाहे ब्लॉक हो या बिजनेस वेबसाइट हो एक बड़ी कॉमनगलती  में जो देखता हूं वो यह है कि आर्टिकल्स में राइटर का कोई प्रोफाइल नहीं होता है आर्टिकल किसने लिखा है क्यों लिखा है कोण है वो ज्ञानी परुष ये सरे इनफार्मेशन जरूरी होती है
 
E.A.T. यानि की Expertise Authoritativeness और Trustworthiness में एक्सपर्टीज इस राइटर की होती है और Authoritativeness मेन कंटेंट और वेबसाइट दोनों का होता है और Trustworthiness भी राइटर और वेबसाइट दोनों का होता है E.A.T. score को बढ़ाने के लिए हम अपने आर्टिकल्स में author section बनाते हैं और राइटर के बारे में ज्यादा से ज्यादा इंफॉर्मेशन देते हैं राइटर कि सोशल मीडिया प्रोफाइल्स उसके नाम के मिशन अवार्ड विकीपीडिया पेज वगैरा-वगैरा की लिंक दीजिये अगर आपको भी ब्लॉक है तो आप हॉस्पिटल सेक्शन में अपने बारे में इंफॉर्मेशन दे सकते हैं और लिंक में अपनी पर सोशल मीडिया के लिंक दे सकते हैं अपनी पर्सनालिटी को अपनी वेबसाइट पर हाई क्वालिटी यूजीसी वीडियो एडिट कंटेंट कीजिए ज्यादा लोग आपके कंटेंट को पढ़कर उस पर करते हैं उसे कमेंट करते हैं उतना ही ज्यादा आता है
 
अपनी वेबसाइट के लिए आपकी वेबसाइट ट्रस्ट लोगों भारतीय हैं आपकी वेबसाइट किए इसको कहते हैं आप इंडस्ट्री से रिलेटेड वेबसाइट पर आपकी वेबसाइट के बारे में दिया हुआ रिव्यू या और प्रोफाइल आपकी और के लिए बढ़िया रहता है उसके बारे में आप जानते ही हैं आगे से प्रोफाइल में आपकी सारी सोशल मीडिया लिंकडइन एजुकेशन वेबसाइट प्रोफेशनल एसोसिएशन वेबसाइट पर जो मेनशन मिलता है वह भी आपकी वेबसाइट की क्रेडिबिलिटी सपोर्ट करता है अपनी वेबसाइट पर कंटेंट की क्वालिटी को लेकर ध्यान रखिए नेगेटिव कंटेंट को कम करता है जिससे कम हो जाता है अगर आप आपकी फ्रेंड की वेबसाइट मेडिकल रिंग स्कूल फॉर मेंटल हेल्थ लॉयर फाइनेंस इंश्योरेंस रिलेटेड है ब्रांच और कंपनी के लिए भी यह दिन पर दिन इंपॉर्टेंट होता जा रहा है इसका ध्यान रखिए
 
 

धन्यवाद

 

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post