▼ Click this Ads to Remove this Box ▼

Refresh

Hot Widget

Tour and Travel Management Course कैसे करें | Travel Management Course क्या है



ट्रैवल करने वाले टूरिस्ट की संख्या पिछले कुछ सालों में बहुत ज्यादा बढ़ गई है और अब इंडिया में भी ट्रैवल इंडस्ट्री Boom पर है ऐसे में अगर आपको भी ट्रैवलिंग पसंद है और आप इसी फील्ड में अपना कैरियर बनाने की सोच रहे हैं

तो Tour and Travel Management Course आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन साबित हो सकता है क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद आप अपने पसंदीदा फील्ड में शानदार करियर Opportunity पा सकेंगे


Travel Management Course कैसे करें | Travel Management Course क्या है



इसलिए आज आपको हमारे पोस्ट में Tour and Travel Management Courses के बारे में बताते हैं चलिए शुरू करते हैं और Travel Management Course से जुड़ी सभी खास जानकारियां लेते हैं टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट कोर्स करने वाले कैंडिडेट को टूरिस्ट इंडस्ट्री से जुड़े एरिया की पढ़ाई करवाई जाती है जैसे की:- Tourist Resort Planning, Environment, Food Service Management, Ecology और Intercultural Communication. ताकि कैंडिडेट टूरिज्म इंडस्ट्री की सभी इंर्पोटेंट एरिया को कवर कर सकें और इस फील्ड में अच्छी सर्विस दे करके अपने करियर को ऊंचाइयों पर ले जा सके

टूर एंड ट्रैवल हॉस्पिटिलिटी इंडस्ट्री का पाट होता है और अगर आप इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो इससे जुड़ा कोर्स कर सकते हैं जैसे की:- Certificate Course, Diploma Course, Undergraduate Course और Post Graduate Course में से कोई भी हो सकता है तो आइए अब इन कोर्सेज के बारे में जानते हैं।



1. Tour and Travel Management में Certificate Course.

सर्टिफिकेट कोर्स की ड्यूरेशन की बात करें तो टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स की दुरेशन 3 से 6 महीने होती है जिसमें इंटर्नशिप भी शामिल हो सकते है कुछ कॉलेजेस में यह कोर्स 1 साल का भी होता है 

बात करे क्राइटेरिया की तो - टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स करने के लिए कैंडिडेट का 10+2 एग्जाम कलियर करना जरूरी है साइंस, आर्ट और कॉमर्स तीनों ही सब्जेक्ट के कैंडिडेट इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

बात हो एडमिशन प्रोसेस की तो - सर्टिफिकेट कोर्स में एडमिशन 12th क्लास के मार्क्स के बेस पर होता है और टॉप जॉब एरिया की बात करें तो सर्टिफिकेट कोर्स करने के बाद कैंडिडेट Heritage Sites, Holiday Parks, Museum's, College या University में जॉब पा सकते हैं जॉब ऑप्शन कि आगे बात की जाए तो सर्टिफिकेट कोर्स करने के बाद कैंडिडेट:- Tour Operator, Management Trainee, Travel Consultant, Freelance Travel Consultant, Travel Executive जैसे जॉब ऑप्शंस में बेस्ट ऑप्शन पा सकते हैं


आगे बात करते हैं। टूर एंड ट्रेवल मॅनॅग्मेंट में सेर्टिफिकेट कोर्स करने के लिए कुछ बेहतरीन कॉलेज के नाम:-

   a. Jamia Millia Islamia, Delhi.
   b. SRM University, Sonipat.
   c. Kalindi College, Delhi.
   d. Jagannath Rathi Vocational Guidance and Training Institute, Pune.
   e. Mumbai College of Hotel Management and Catering Technology, Mumbai.
   f. HR Institute of Technology, Ghaziabad.

तो इनमे से किसी भी कॉलेज में कोर्स कर सकते हैं और जहां तक बात है कि सैलरी कितनी होगी तो सर्टिफिकेट कोर्स करने के बाद कैंडिडेट शुरू में 8,000 से 10,000 तक हर month कमा सकते हैं। 



2. Tour and Travel Management में Diploma Course.

अगर आप टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट कोर्स में डिप्लोमा करना चाहते हैं तो इस कोर्स की डुरेशन 1 साल की होती है कुछ कॉलेज में यह ड्यूरेशन 6 महीने का भी हो सकता है। क्राइटेरिया की बात करें इस कोर्स को करने के लिए आपका 10+2 एग्जाम में मिनिमम 50% मार्क्स के साथ क्लियर करना जरूरी है एडमिशन प्रोसेस की बात करें तो इस कोर्स में एडमिशन मेरिट बेस पर भी हो सकता है और एंट्रेंस टेस्ट के बेस पर भी हो सकता है।

टॉप रिपोर्टिंग एरिया की बात करें तो इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट Travel and Tourism Industry, Tourism Operating, Resorts and Hotels, Aviation Industry और Consultancies में अप्लाई कर सकते हैं जॉब ऑप्शन की बात की जाए डिप्लोमा कोर्स करने वाले कैंडिडेट के लिए Tour Operator, Travel Consultant, Tour Manager, Tour Analysts, Program Analysts and Travel Planners जैसे जॉब ऑफर खुल जाते हैं


पॉपुलर कोर्स की बात की जाए तो डिप्लोमा कोर्स करने के लिए कुछ बेहतरीन कॉलेज है:-

   a. IIFLY Aviation Training Centre, Mumbai.
   b. Kes Shroff College of Arts and Commerce, Mumbai.
   c. University of Mumbai, Mumbai.
   d. Institute open Logistics and Aviation Management, New Delhi.
   e. Guru Nanak Dev University, Punjab.

यहां से आप किसी भी कॉलेज से डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं सैलरी की जहा तक बात की जाये तो डिप्लोमा कोर्स करने के बाद कैंडिडेट फ्रेशर के तौर पर 10,000 से 15,000 हर महीने earn कर सकता है।
 



3. Tour and Travel Management में Undergraduate Course.

टूर एंड ट्रेवेल मैनेजमेंट का अंडरग्रैजुएट कोर्से कैंडिडेट को बहुत सारे ऑप्शन देता है जैसे कि:-

   a. Bachelor Of Tourism Management.
   b. Bachelor Of Tourism & Travel Management.
   c. BA In Travel & Tourism Management.
   d. BBA In Tour And Travel Management.
   e. BA Tourism Studies.
   f. BA Owners Travel And Tourism.
   g. BSC Owners Travel And Tourism Management.
   h. BSC Hospitality And Tourism.
   i. BSc Airlines Tourism And Hospitality.

तो ये सरे कोर्स आप कर सकते है। इस कोर्स की डोरशन की बात की जाए तो यह डिग्री कोर्स जरनल ही 3 साल का होता है और इसकी क्राइटेरिया की बात की जाए तो टूर एंड ट्रेवेल मेनगेमैंट में अंडर ग्रेजुएट कोर्स करने के लिए कैंडिडेट का 10+2 क्लास क्लीयर होना बहुत जरूरी है जिसमे कम से कम 50% Marks होना चाहिए। इस के अलावा बहुत से इंस्टुट के द्वारा हिंदी लैंग्वेज में ferules और English लैंग्वेज पर अच्छी कमांड की भी जरूरत होती है वैसे इसके एग्जाम पैटर्न की बात की जाए तो अंडरग्रैजुएट कोर्स में एग्जाम ज्यादा तर कॉलेज में सेमेस्टर सिस्टम से होते हैं। और एडमिशन प्रोसेस की बात की जाये तो इस कोर्स में एडमिशन के लिए एंटरेंस टेस्ट को क्लियर करना होता है।

रिक्यूर्टिंग एरिया की बात की जाये तो अंडर-ग्रेजुएट कोर्स करने वाले कैंडिडेट के लिए:- Travel Agency, Tourism Company, Hotel Restaurants और IT Company. में करियर ऑप्शन चुन सकते हैं और जॉब ऑप्शन की जहां तक बात है तो इस कोर्स को करने वाले कैंडिडेट के पास Travel Agent, Travel Consultant, Tourism Manager, Tour Operation Manager, Travel Coordinator जैसे जॉब ऑप्शन आजाते है। और यहां पर हम टॉप कॉलेजेस की बात करें तो टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएट कोर्स करने के लिए कुछ बेहतरीन कॉलेजेस यह है। 


4. Undergraduate Course के बाद Post Graduate.

टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएट कोर्स करने के बाद कैंडीडेट्स इसमें 2 साल का पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स भी कर सकते हैं उन्हें कई सारे ऑप्शन मिलते हैं जैसे कि:-

   a. MSC Tourism.
   b. MSC Hospitality And Tourism Management.
   c. MSC Airlines Tourism And Hospitality Management.
   d. MSC Hotel And Tourism Management.
   f. MA In Travel And Tourism Management.
   g. MA In Tourism.
   h. MA In Hotel Management And Tourism.
   i. Mba In Tourism Management.

तो ये सरे कोर्स कर सकते हैं इस कोर्स को करने से पहले कैंडिडेट का ग्रेजुएट होना जरूरी है। बहुत सी कॉलेज एससी कैंडिडेट को प्रिफरेंस देते हैं जो टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट पर ग्रेजुएट होते हैं पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट में पीएचडी भी की जा सकती है और टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए एक कैंडिडेट में कुछ खास स्किल्स का होना बहुत जरूरी होता है जैसे:- Responsibility, Team Spread, Good Communication Skills, Creative Attitude, Passion For Work, Polite Nature And Dedication, Customer-oriented, Multi-task Approach. इन सारी चीजों का ध्यान रखें।



तो दोस्तों इस पोस्ट में आपको टूर एंड ट्रैवल मैनेजमेंट कोर्स से जुड़ी खास जानकारियां मिल गया होगा। आप समझ गए होंगे की अगर आप घूमना फिरना नए-नए जगह को एक्सप्लोर करना पसंद है साथ ही अच्छा होस्ट बनकर टूरिस्ट को गुड फेसलिटी और कंफर्टेबल एनवायरमेंट देना अच्छा लगता है तो आप को इस फील्ड में अपना करियर जरूर बनाना चाहिए और जहां तक इंडिया में टूरिज्म इंडस्ट्री की ग्रोथ की बात है तो टूरिस्ट बिज़नस इंडिया में बहुत ही तेजी से ग्रो कर रहा है इसीलिए इस बूमिंग इंडस्ट्री में आप अच्छे से कदम रख सकते है तो इतनी सारी बातों के साथ ही यह जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में लिख कर के हमारे साथ शेयर कीजिये सात ही साथ इसे बाकी लोगों के साथ शेयर करना ना भूलें और इसके साथ अपना बहुत सारा ध्यान रखिए ऐसी जानकारियों के लिए और खुश रहिए।



धन्यवाद्



Post a Comment

0 Comments